उत्तराखंड के चिकित्सा शिक्षा व प्रमुख मेडिकल कॉलेज

उत्तराखंड के चिकित्सा शिक्षा व प्रमुख मेडिकल कॉलेज : राज्य में चिकित्सकीय शिक्षा के विस्तार पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। वर्तमान में राज्य में एलोपैथिक, आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक तथा नेचुरोपैथिक पद्धतियों में शिक्षा देने के लिए कई सरकारी एवं निजी संस्थाएं हैं। प्रमुख संस्थाएं अधोलिखित हैं .

मेडिकल विश्वविद्यालय

देहरादून और ऋषिकेश के बीच जौलीग्रांट नामक स्थान पर संत डॉ. स्वामी राम की स्मृति में उनके शिष्यों द्वारा 1989 में स्थापित हिमालयन इंस्टीट्यूट हॉस्पिटल ट्रस्ट के तहत ‘हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, जोकि राज्य का पहला मेडिकल कालेज है, को 7 जून 2007 को केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने डीम्ड विश्वविद्यालय का दर्जा प्रदान किया है |

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान 

केन्द्र सरकार द्वारा ऋषिकेश में स्थापित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने फरवरी, 2014 से कार्य करना शुरू किया था। इस संस्थान की एक गोपेश्वर में एक ट्रामा सेन्टर भी स्थापित की गई है। यह संस्थान दिल्ली के एम्स की एक शाखा होने के बजाय अपने आप मे पूर्ण संस्थान है। इसमें उच्चस्तरीय आधुनिक चिकित्सा सुविधाओं के अलावा 100 शैयाओं वाला मेडिकल कालेज भी है।

वर्तमान में प्रदेश में राज्य सरकार के 3 एलोपैथिक मेडिकल कॉलेज (हल्द्वानी, श्रीनगर व दून), 2 डेण्टल कॉलेज, 2 आर्युवेदिक कॉलेज9 नर्सिंग कॉलेज संचालित हैं। जबकि दो राजकीय एलोपैथिक मेडिकल कॉलेज अल्मोड़ा रूद्रपुर में निर्माणाधीन हैं।

सुशीला तिवारी मेमो. चिकित्सालय, हल्द्वानी (नैनीताल ) 

19 मार्च, 1997 को एक चिकित्सालय के रूप में स्थापित व 2004 से मेडिकल कॉलेज के रूप में संचालित इस चिकित्सालय को 1 मई 2010 को प्रदेश सरकार ने राजकीय मेडिकल कालेज का दर्जा प्रदान किया है। इसमें राज्य का प्रथम पैरा-मेडिकल संस्थान और कैन्सर हास्पिटल भी हैं।

वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली राजकीय मेडिकल कालेज, श्रीनगर  

इस कॉलेज का लोकार्पण 7 जुलाई 2008 को किया। इसमें एमबीबीएस की 100 सीटे हैं। यह सबसे कम फीस पर एमबीबीएस का डिग्री देने वाला कालेज है।

दून मेडिकल कालेज, देहरादून  

इस कालेज में अगस्त 2016 से पढ़ाई शुरु हुई है। इस कालेज में एमबीबीएस की 150 सीटें हैं।

चिकित्सा शिक्षा विश्वविद्यालय 

इस विश्वविद्यालय की स्थापना 2013 में देहरादून में की गई है।

आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय

इस विश्वविद्यालय की स्थापना 2009 में देहरादून में की गई है।

  • ऋषिकुल राजकीय पीजी आयुर्वेदिक कॉलेज, हरिद्वार। 
  • उत्तरांचल आयुर्वेदिक कॉलेज, देहरादून।
  • चन्दोला होम्योपैथिक मेडिकल कालेज, रुद्रपुर, ऊधमसिंह नगर ।
  • उत्तरांचल यूनानी मेडिकल कॉलेज, हरिद्वार
  • प्रदेश में प्रथम नर्सिंग कॉलेज की स्थापना 2010 में देहरादून में हुई थी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top